..और अमिताभ ने उल्लू बनाया

तकरीबन चार दशक से बॉलीवुड पर राज कर रहे बिग बी यानी अमिताभ बच्चन गुरुवार को पैंसठ साल के हो रहे हैं। इस अवसर पर शिल्पा जामखंडिकर ने बिग बी के मेकअपमैन दीपक सावंत से उनके अनछुए पहलुओं के बारे में जानने की कोशिश की……

दीपक और अमिताभ का रिश्ता तकरीबन छत्तीस साल पुराना है। फिल्म ‘रास्ते का पत्थर’ से अमिताभ का मेकअप करते चले आ रहे दीपक का साथ ‘सरकार २’ तक अभी भी जारी है। फिल्म की शूटिंग पर हमेशा वक्त पर पहुंचने वाले अमिताभ उन्हें अपना सीन पढ़ने के बाद ही मेकअप के लिए बुलाते हैं। अमिताभ उनके कितने करीब हैं यह इसी बात से पता चलता है कि जब नवंबर २क्क्५ में अमिताभ अस्पताल से स्वस्थ होकर वापस लौटे तो उन्होंने सबसे पहले उनकी भोजपुरी फिल्म ‘गंगा’ की शूटिंग में भाग लिया। इतने वर्षो के साथ के दौरान उन्होंने अमिताभ को हमेशा अपने काम के प्रति समर्पित पाया।

दीपक के मुताबिक अमूमन कम बात करने वाले अमिताभ अपने करीबी लोगों के साथ काफी मजाकिया हैं। रमेश सिप्पी की फिल्म ‘शोले’ की शूटिंग के दौरान अमिताभ ने एक बार ऐसा मजाक किया कि खुद दीपक के साथ-साथ जयाजी भी घबरा गईं। उस वाकये का जिक्र करते हुए दीपक ने बताया- ‘दरअसल हुआ यूं कि एक दिन शूटिंग के बाद अमितजी, जयाजी और मैं वापस जाने के लिए कार में बैठ रहे थे। मैं आगे की सीट पर बैठ गया।

जैसे ही मैंने कार का दरवाजा बंद किया कि अमितजी के जोर से चीखने की आवाज आई। वहां खड़े सभी लोगों को लगा कि उनका हाथ दरवाजे में फंस गया है। एक क्षण के लिए मेरी सांस अटक गई। जयाजी भी परेशान हो गईं। तभी अमिताभ जोर-जोर से हंसते हुए बोले-कैसा उल्लू बनाया तुम लोगों को। इसके बाद ही हमारी जान में जान आई।’

दिलीप साहब के फैन

भारत सहित दुनिया भर में भले ही अमिताभ के करोड़ों की संख्या में प्रशंसक हों, लेकिन खुद ‘बिग बी’ दिलीप कुमार के बहुत बड़े प्रशंसक हैं।

ऑटोग्राफ नहीं ले पाया था
एक घटना का जिक्र करते हुए अमिताभ ने बताया कि 1960 में मैं छुट्टियों में मुंबई आया था। इसी दौरान मैंने दिलीप कुमार को शहर के एक बड़े रेस्तरां में प्रवेश करते देखा। मैं दीवानों की तरह ऑटोग्राफ बुक लेकर उनके पीछे भागा, लेकिन ऑटोग्राफ नहीं ले पाया। कई वर्षो बाद मुझे उनके साथ काम करने का मौका मिला। ‘शक्ति’ फिल्म की शूटिंग के दौरान मैंने इस घटना के बारे में जब उन्हें बताया तो वे हंस पड़े।

हर किसी की प्रेरणा रहे हैं
अमिताभ के अनुसार दिलीप कुमार हर कलाकार के लिए प्रेरणा रहे हैं। जो इस बात को स्वीकार नहीं करते, वे पूरी तरह ईमानदार नहीं है। उनकी फिल्में देखकर मैंने अभिनय के बारे में बहुत कुछ सीखा है। मुझे इस बात का गर्व है कि मेरी एक्टिंग कहीं न कहीं उनसे प्रभावित है।

बेहद अच्छे इंसान : दिलीप
ट्रेजडी किंग दिलीप कुमार ‘ब्लैक’ में अमिताभ बच्चन की एक्टिंग से बेहद प्रभावित हैं। वे इसे हाल के वर्षो में देखी गई सबसे अच्छी फिल्म मानते हैं। उन्होंने कहा कि अमिताभ एक सुलझे हुए इंसान हैं। हिंदी, अंग्रेजी और उर्दू, तीनों ही जबानों पर उनका गजब का अधिकार है। जब उन्हें बताया गया कि अमिताभ अपनी एक्टिंग को कुछ हद तक उनसे प्रभावित बताते हैं तो यूसुफ साहब ने विनम्रता से कहा कि मुझे खुद अभिनय करना नहीं आता तो भला कोई मेरी कॉपी कैसे कर सकता है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *